Poori Recipe in Hindi with Video

पूरी (पुड़ी) आटे से बनायी जाने वाली एक प्रसिद्ध भारतीय ब्रेड है जिसे तेल या घी में तल कर बनाया जाता है. इसे नाश्ते या मुख्य भोजन में मुख्य आहार के तौर पर कई प्रकार के अन्य व्यंजनों के साथ परोसा जाता है, जैसे कि खीर, आचार, सब्जियां, रायता, हलवा आदि. उत्तर भारतीय जीवन में पूरी वही महत्त्व और स्थान रखती है जो रोटी (चपाती) का है. पूरे भारत में ही और विशेषकर उत्तर भारत में पूरी रोज़मर्रा के खान-पान से लेकर त्यौहारों तक हमेशा से भोजन में अनिवार्य रूप से शामिल की जाती रही है.

आज मैं आपके साथ यही पूरी रेसिपी (poori recipe) विडियो सहित साझा कर रही हूँ. यह रेसिपी आपके त्यौंहारों को पारंपरिक भारतीय व्यंजनों की खुशबू से भर देने में बड़ी मददगार हो सकती है.

Poori Recipe In Hindi With Video - पूरी रेसिपी
Print Recipe
Servings Prep Time
5 व्यक्ति 5 मिनट
Cook Time Passive Time
15 मिनट 20 मिनट
Servings Prep Time
5 व्यक्ति 5 मिनट
Cook Time Passive Time
15 मिनट 20 मिनट
Poori Recipe In Hindi With Video - पूरी रेसिपी
Print Recipe
Servings Prep Time
5 व्यक्ति 5 मिनट
Cook Time Passive Time
15 मिनट 20 मिनट
Servings Prep Time
5 व्यक्ति 5 मिनट
Cook Time Passive Time
15 मिनट 20 मिनट
Ingredients
  • 200 ग्राम आटा
  • 1 छोटा चम्मच नमक
  • आवश्यकतानुसार पानी (आटा गूंथने के लिए)
  • 250 मिली तेल (या घी)
Servings: व्यक्ति
Instructions
पूरी रेसिपी विडियो:
पुड़ी रेसिपी विस्तार से :
  1. सबसे पहले आटा और नमक मिलाकर एकसार कर लीजिये.
  2. अब इसमें धीरे धीरे पानी डालते हुए रोटी से थोड़ा ज़्यादा सख्त आटा गूंथ लीजिये. पुड़ियाँ फूली फूली और करारी बनें इसके लिये आटा सख्त होना ज़रूरी है.
  3. गूंथे हुए आटे पर थोड़ा तेल लगाकर इसे 10 मिनट के लिये सूती कपड़े से ढक कर रख दीजिये.
  4. 10 मिनट बाद आटे में हथेली और मुट्ठी से लोच लगाइये.
  5. अब इससे 1.5 इंच साइज़ की लोईयाँ बनाकर, तेल लगाकर करीब 4 इंच साइज़ में बेल लीजिये.
  6. कड़ाही में तेल गर्म करके इसमें सभी पुड़ियों को तल लीजिये.
  7. ध्यान रहे गर्म तेल में जब भी पुड़ियाँ डालें तो इसे बार बार नहीं चलायें, इससे पुड़ी में छेद हो जाते हैं और पुड़ी फूलती नहीं है.
  8. गर्मागर्म करारी पुड़ियाँ तैयार हो गई हैं. आप इसे खीर, सब्ज़ी, अचार, चटनी आदि के साथ परोसिये.
Recipe Notes
  1. पूरी का आटा हमेशा रोटी के आटे से थोडा सख्त गूंथें. यदि आटा बहुत नर्म होगा तो पूरी फूलेगी नहीं, और यदि आटा बहुत सख्त होगा तो तलते समय पूरी टूट सकती है.
  2. पूरी तलते समय केवल एक बार ही पलटनी चाहिए. बार-बार पलटने या हिलाते रहने से पूरी में छेद होने की सम्भावना रहती है जिससे पूरी फूलती नहीं है.

करारी-करारी पूरियां बनाइये और अपने अनुभव मुझे नीचे कमेंट सेक्शन में लिख भेजिए.

Author: Sonia Goyal
Share this Recipe
 

Share and Enjoy

  • Facebook
  • Twitter
  • Delicious
  • LinkedIn
  • StumbleUpon
  • Add to favorites
  • Email
  • RSS

0

 likes / 0 Comments
Share this post:

Archives

> <
Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec
Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec